ज़ी हिंदुस्तान ने बलोच बच्ची का मशीन गन चलाने का वीडियो तालिबान से जोड़कर दिखाया

0


अफ़ग़ानिस्तान पर तालिबान ने दोबारा कब्ज़ा कर लिया है. उन्होंने पंजशीर पर भी कब्ज़ा करने का दावा किया है. इसके बाद से सोशल मीडिया पर वहां के दृश्य बताकर कई वीडियोज़ शेयर किये गए. इस दौरान, ज़ी हिंदुस्तान ने 3 सितंबर को एक वीडियो ट्वीट किया. इसमें एक बच्ची मशीन गन चलाते हुए दिखती है. ज़ी हिंदुस्तान ने ये वीडियो शेयर करते हुए दावा किया कि पंजशीर में एक मासूम बच्ची ने तालिबान के खिलाफ़ हथियार उठा लिए हैं. ब्रॉडकास्ट के दौरान ऐंकर ने भी यही दावा किया. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

ज़ी हिंदुस्तान ने फ़ेसबुक पर भी इस शो का वीडियो पोस्ट करते हुए यही दावा किया. (आर्काइव लिंक)

फ़ैक्ट-चेक

फ़्रेम्स को रिवर्स इमेज सर्च करने पर ऑल्ट न्यूज़ को ये वीडियो 28 जनवरी 2020 के ट्वीट में मिला. यूज़र ने इस वीडियो के साथ कोई जानकारी शेयर नहीं की थी.

आगे, की-वर्ड्स सर्च के ज़रिए यूट्यूब पर ये वीडियो 26 जनवरी 2020 को अपलोड किया हुआ मिला. इसे पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत का बताया गया. वीडियो के साथ लिखा है कि बलोच लड़की मशीन गन चला रही थी.

बूम ने भी इस वीडियो के बारे में एक फ़ैक्ट-चेक आर्टिकल पब्लिश किया. उनके मुताबिक, ट्वीट पर जवाब देते हुए कुछ यूज़र्स ने वीडियो में बजने वाला गाना बलूची भाषा का बताया.

यहां एक बात तो साफ़ हो जाती है कि मशीन गन चलाने वाली बच्ची का वीडियो पुराना है. ज़ी हिंदुस्तान ने ये वीडियो शेयर करते हुए ग़लत दावा किया कि अफ़ग़ानिस्तान में छोटे बच्चों ने तालिबान के ख़िलाफ़ हथियार उठा लिए हैं.


मीडिया ने पंजशीर घाटी में तालिबानी आतंकियों के मारे जाने का बताकर पुराने वीडियोज़ चलाए :

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.





Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.