बिजली चोरी करने और जान से मारने की धमकी का वीडियो पुराना, भारत नहीं पाकिस्तान का

0


भारतीय सोशल मीडिया यूज़र्स एक वीडियो शेयर कर रहे हैं जिसमें एक मुस्लिम व्यक्ति को बिजली चोरी करने की बात स्वीकार करते और कनेक्शन हटाने पर जान से मारने की धमकी देते हुए देखा जा सकता है. उसने कहा “मैं या तो मर जाऊंगा या मार दूंगा.”

ट्विटर यूज़र @shruttitandon ने ये वीडियो ट्वीट करते हुए दावा किया कि देश में तालिबान जन्म ले रहा है. इस वीडियो को 20 हज़ार से ज़्यादा बार देखा जा चुका है.


कई यूज़र्स ने ये वीडियो पोस्ट किया है. कम से कम 100 रीट्वीट पाने वाले यूज़र्स को यहां देखा जा सकता है.

पूर्व नौसेना अधिकारी हरिंदर एस सिक्का ने भी यूपी के सीएमओ और सीएम आदित्यनाथ को टैग करते हुए ये वीडियो शेयर किया था.

2021 09 04 17 42 08 Harinder S Sikka on Twitter @CMOfficeUP @myogiadityanath Open Threat from thie

कई फ़ेसबुक (FB) और ट्विटर यूज़र्स ने ये वीडियो शेयर किया है. इसे फ़ेसबुक पेज मोदीजी-विकास पुरुष और राष्ट्रचेतना ने पोस्ट किया था. एक यूज़र ने इसे फ़ेसबुक ग्रुप ‘वी सपोर्ट पुष्पेंद्र कुलश्रेष्ठ’ पर भी पोस्ट किया. वीडियो पोस्ट करने वाले अन्य ट्विटर अकाउंट में @PNRai1, @Horsestable15, @YamrajFromHell, @pujatiwariBJP, @JainKiran6, @Bhilaiwale_, @AmitAgarwal9, और @BHUPENDER4252 शामिल हैं.

This slideshow requires JavaScript.

ऑल्ट न्यूज़ के व्हाट्सऐप नंबर (+91 76000 11160) पर इस दावे की सच्चाई जानने के लिए कई रिक्वेस्ट मिलीं.

WhatsApp Image 2021 09 02 at 22.33.01


[व्हाट्सऐप पर हिंदी में वायरल टेक्स्ट: बिजली चोरी करूंगा !! नहीं मानूंगा!! … मरूंगा या मारूंगा।।।। ये तालिबान तो देश के भीतर ही पैदा हो रहा है]

फ़ैक्ट-चेक

फ़ेसबुक पर उर्दू में ماروں ا یا مروں گا कीवर्ड सर्च करने पर हमने देखा कि वायरल वीडियो को पाकिस्तान स्थित ARY न्यूज़ ने पिछले साल जुलाई में पब्लिश किया था. ऐंकर ने बताया था कि ये घटना कराची की है और अताउर्रहमान नाम के एक शख्स ने बिजली का मीटर लगाने की कोशिश करने पर अधिकारियों को धमकाया था.

IMG 20210903 112850

इसे ट्रेंड्स ऑफ़ पाकिस्तान और Siasat.pk ने भी 2020 में ट्वीट किया था.

इस तरह, 2020 में पाकिस्तान की एक घटना का वीडियो भारत में कई सोशल मीडिया यूज़र्स ने भारत की घटना बताते हुए शेयर किया.


 

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.





Source link

You might also like
Leave A Reply

Your email address will not be published.